रामचरितमानस के बालकांड में छोटा सा बाल मिल रहा है क्या यह सच है कि सिर्फ अफवाह है

रामचरितमानस के बालकांड में छोटा सा बाल मिल रहा है क्या यह सच है कि सिर्फ अफवाह है

कोराना ठीक करने के उपाय के बाद अब एक नई अफवाह फैल रही है की रामचरितमानस में बाल निकल रहा है वैज्ञानिकों ने इस अफवाहों पर ध्यान ना देने की अपील की है वहीं पुलिस प्रशासन ने भी कहा है कि अफवाहों पर ध्यान ना दें, ऐसी अफवाहें बहुत फैलती है

कुछ दिनों से उत्तर प्रदेश के कानपुर प्रयागराज में अफवाहें फैल रही हैं में फैल रही हैं कि रामचरितमानस के बालकांड में छोटा सा बाल मिल रहा है यह भी कहा जा रहा है कि उस बाल को पानी में उबालकर अपने परिवार जनों को पिलाएं और घर में सभी जगहों पर छिड़काव करें और जो बाल जो बालकांड से निकला है उसको बालकांड में वापस रख दें लोग यहां तक कह रहे हैं कि कलयुग में भगवान का अवतार होने वाला है।

लोग पलटने लगे रामचरितमानस के पन्ने

रामचरितमानस के बालकांड में बाल निकलने की अफवाह जंगल में आग की तरह फैल रही है हमारे आस-पास के गांव वालों ने भी बताया कि हमारे रामचरितमानस के बालकांड में छोटा सा बाल निकला और हमने अपने रिश्तेदारों को भी सूचना दी तो उन्होंने भी देखा तो उनके में भी निकला कुछ लोग नहीं बताया कि हमारे रामचरितमानस में तो कहीं भी कोई बाल नहीं निकला।

क्या कहते हैं विशेषक

डीएवी डिग्री कॉलेज के भौतिकविद डॉ. अमित श्रीवास्तव कहते हैं कि यह सच है कि धार्मिक ग्रंथों में विज्ञान छिपा हुआ है लेकिन इसका विज्ञान से कोई लेना-देना नहीं कोरोना से बचने के लिए अपवाहों पर ध्यान ना दे और सावधानी बरतें उन्होंने कहा कि अक्सर लोगों के घर में रामचरितमानस पाठ होता है और रामचरित मानस सबके घरों से मंगवाई जाती है तो उसी में से बाल टूट कर गिर जाता है और पन्नों में फंस जाते हैं

तो यह पूरी तरह से अफवाह है वैज्ञानिकों ने और पुलिस ने भी कहा है, और हम भी कह रहे कि आप इस पर ध्यान ना दें 

लोगों को शेयर करें ताकि यह जानकारी सबको मिल जाए 

Leave a Comment